दिसम्बर, 2010 के लिए पुरालेख

बस

Posted in Uncategorized on दिसम्बर 11, 2010 by paawas

…हाँ बस … हम विदा लेते हैं अपने मित्रों से … शायद यह ब्लॉग अपनी उम्र पूरी कर चूका है … शायद और कुछ नहीं कहना है … कुछ कहने की ज़रूरत नहीं है अब …जंग लगे ख्वाबों को छोड़ देते हैं …छोड़ देते हैं बरसातों को… जाड़ों की धूपों को, खुशियों को, उदासियों की भीड़ों को… खामोश होती साँसों को … तोड़ देते हैं यादों को लड़ियों को …

हमारे दोस्तों ने बहुत प्यार दिया … समय दिया … हमारे दिल से निकलते हैं आभार …
एक नन्ही सी दोस्त तान्या जिसने अब तक कुछ नहीं कहा, उसे प्यार … हम तुमसे बात नहीं कर पाए बेटा … हमारा इंतज़ार मत करना … खुश रहना …

आप सबको प्यार …

बस … अब और नहीं…

Advertisements